जानिए कैसे ग़ालिब के खिलाफ रहने वाले शायर ज़ौक, अगर आज ज़िंदा होते तो बॉलीवुड में लिरिसिस्ट होते.

ज़ौक़, ज़ौक़ ज़ौक़ ज़ौक़ उर्दू अदब के मशहूर शायर थे। दिल्ली के एक ग़रीब घर से उठकर बहादुर शाह ज़फर

Read more

जिस देश का बाल साहित्य समृद्ध नहीं है, उसका भविष्य उज्ज्वल नहीं रह सकता : सर्वेश्वर दयाल सक्सेना

यह कथन उस व्यक्ति का है जिसने छठी कक्षा में पहली कविता लिखी और नवीं कक्षा में ‘आर्यमित्र’ पत्रिका में

Read more